Sat. Sep 26th, 2020

हाई वोल्टेज तार टूटने से खलिहान में रखा लाखों का गेहूं स्वाहा

किसानों में छाई मायूसी घंटो तक किसान रहे अचेत छतिपूर्ति के लिए प्रशासन से आस

रीवा : वैश्विक स्तर में फैली कोरोना जैसी भयंकर महामारी से लॉक डाउन की स्थिति में इन दिनों किसानों की कमर टूटती जा रही है। कई किसानों के फसल की कटाई न होने से खेत में बर्बाद हो रही है तो वहीं, कइयों की फसल जो किसी तरह से खलिहान में पहुंच चुकी है वह आग में झुलसी जा रही है।

जिले के जवा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बेलगवा में सुबह लगभग 8:30 बजे बड़ी घटना घटी जहां खलिहान में रखा लाखो का गेहूं जलकर खाक हो गया। मिली जानकारी के मुताबिक 33 हजार हाई वोल्टेज का तार अचानक टूट कर पेड़ में गिर गया, जिससे उत्पन्न चिंगारी से किसान रामाधार सिंह पिता स्व. जगत धारी सिंह के खलिहान में लगभग 3 एकड़ का गेहूं रखा था जिसमे आग़ लगने से रखा हुआ गेहूं जलकर खाक हो गया। घटना की जानकारी तत्काल बिजली विभाग व तहसील कार्यालय जवा को किसानों द्वारा दी गई, मौक़ा ए बारदात में तहसीलदार व पटवारी द्वारा मुआयना कर ग्राम पंचायत बेलगवा के मुखिया की मौजूदगी में पंचनामा तैयार कर एक लाख बीस हजार का मुआवजा बना कर जनपद कार्यालय जवा को प्रेषित कर दिया गया।
लाखों की फसल नष्ट होने से किसान गंभीर सदमे में हैं एवं बिजली विभाग के ऊपर आरोप लगाते हुए कहा कि इस 33 हजार हाई वोल्टेज लाइन के बारे में हमारे द्वारा कई दफा विभाग को संज्ञान में लेने हेतु अवगत कराया गया था, लेकिन विभागीय अधिकारियों की कान में जूं तक नहीं रेंगी।

महामारी के दौर ही नहीं इसके पहले भी किसानों को सरकार द्वारा वोट के नाम पर लुभाते हुए ठगने का पूर्ण प्रयास किया जा रहा था इस तरह से प्रदेशभर के परेशान किसान एवं सरकार के बीच का सामंजस्य देखते हुए बड़ा प्रश्न अब ये उठता है कि, क्या साशन-प्रशासन किसानों के दर्द को समझेगी या किसानों के नाम पर सरकार किसानों के साथ छलावा ही करती रहेगी..?

रीवा से स्वतंत्र शुक्ला की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed